तोमरबीते दिन इलाहाबाद के नैनी में हुआ गंगा गाँव सम्मेलन नमामि गंगे परियोजना के तहत गंगा के किनारे पर बसे ५२ जिलों के सभी ४४८० गाँव को ओडीएफ घोषित किया गाया यह सभी जिले पाँच राज्यों उत्तराखण्ड, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखण्ड और पश्चिम बंगाल में हैं. यह घोषणा ग्रामीण विकास, पंचायती राज, पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री नरेन्द्र तोमर ने की

इसके बाद जल संसाधन और गंगा संरक्षण मंत्री उमा भारती और नरेन्द्र सिंह तोमर ने गंगा ग्राम मॉडल भी लॉन्ज किया. इसके लिए २४ नमामी गंगे गाँवों की पहचान की गई हैं और इनमे से उत्तराखण्ड के ३ उत्तर प्रदेश के १० बिहार के ४ झारखण्ड के ५ व पश्चिम बंगाल के २ गाँवों की पहचान की गई हैं. इन्हे आदर्श गंगा ग्राम बनाया जाएगा. गंगा ग्राम योजना, जल संसाधन और पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय का संयुक्त प्रयास हैं.

इन सभी गाँवों के ग्राम प्रधानों ने आदर्श गंगा ग्राम का लक्ष्य हासिल करने की शपथ ग्रहण की और यह शपथ जल संसाधन मंत्री उमा भारती ने दिलाई. गंगा ग्राम प्रयास के तहत बेहतर सफाई व्यवस्था और अपशिष्ट प्रबन्धन तलाबों और जल स्रोतो के पुनर्उद्धार, जल संरक्षण परियोजनाए ओर्गेनिक खेती, शवदाहगृह पर कार्य किया जाएगा और सरकारी विभागों तथा अन्य परियोजनाओं के साथ बेहतर तालमेल रखा जाएगा.

इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने कहा कि वे दिसम्बर २०१८ तक समुचे उत्तर प्रदेश को ओडीएफ घोषित करने के लिए कृत संकल्प हैं. उमा भारती ने अपने संबोधन में कहा कि पवित्र गंगा नदी की स्वच्छता पर बड़े कदम उठाए जा रहे हैं. तोमर स्वच्छ भारत मिशन की प्रगति का उल्लेख किया उन्होने कहा कि देश इस दिशा में उन्नति कर रहा हैं और २.२५ लाख गाँव व १६९ जिले ओडीएफ घोषित किए जा चुके हैं. देश २ अक्टूबर २०१९ तक पूर्णतः ओडीएफ किए जाने के लक्ष्य को प्राप्त कर लेगा.

कार्यक्रम के अन्त में योगी आदित्यनाथ, उमा भारती और तोमर ने संयुक्त रूप से ३० स्वच्छता रथों को झण्डी दिखाकर रवाना किया. इन रथों में स्वच्छता फिल्में दिखाई जाएंगी और गाँव में समुदायों के साथ मिलकर नुक्कड़ नाटक दिखाए जाएंगे नुक्कड़ नाटक समूह स्वच्छता के लिए प्रेरित करेंगे यह रथ पूरे राज्य का दौरा करेंगे और स्वच्छता का संदेश देने के साथ लोगों में व्यवहार परिवर्तन की दिशा मे कार्य किया जाएगा और इस सप्ताह ३०० रथ विभिन्न राज्यों के ४००० गाँव में स्वच्छता का संदेश फैलाएगे|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here