सलमान

यदि विवादों में ना फंसती फिल्म पद्मावती तो आज सिनेमाघरों में रिलीज हो रही होती. लेकिन तमाम नेताओं और संगठनों के विरोध की वजह से फिल्म की रिलीज पर संकट गहराया हैं. फिल्म इंडस्ट्री का भंसाली को पूरा सपोर्ट मिल रहा हैं. सलमान खान ने एक बार फिर फिल्म का खुलकर समर्थन किया हैं. उन्होंने कहा, मेरे ख्याल से किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना सही नहीं हैं. लेकिन किसी फिल्म को देखे बिना ही उसपर कमेंट करना भी गलत हैं. सेंसर बोर्ड की ओर से फिल्म को सर्टिफिकेट देना हैं और

हम उस सर्टिफिकेट के साथ जाएंगे. सभी को सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करना चाहिए. मैं पिछले २५ वर्षों से सुप्रीम कोर्ट का सम्मान कर रहा हूं. सलमान ने ये भी कहा कि इस तरह के विरोध-प्रदर्शन की वजह से फिल्म के कारोबार पर असर पड़ता हैं. फिल्म के बिजनेस में १०० प्रतिशत का घाटा होता हैं. फिल्म अगर खबर में होती हैं तो लोग डर की वजह से सिनेमाघर तक पहुंचते ही नहीं हैं. यहां तक कि सिनेमाघर के मालिक भी डर जाते हैं क्योंकि वो हिंसा नहीं चाहते. हालांकि यह पहली बार नहीं हैं जब सलमान खान पद्मावती के सपोर्ट में खड़े हुए हो. पिछले महीने भी सलमान ने कहा था कि मुझे लगता हैं सेंसर को मामले में फैसला करना चाहिए.

भंसाली खूबसूरत और अच्छी फिल्में बनाते हैं. उनकी फिल्मों में वल्गर और गंदी चीजें नहीं होती. वह किसी किरदार को गलत एंगल से नहीं फिल्मा सकते हैं. बता दें, जब दीपिका पादुकोण पद्मावती का प्रमोशन करने बिग बॉस में गई थीं, तब भी सलमान ने फिल्म के खिलाफ की जा रही गलत बयानबाजी को क्लियर करने की कोशिश की थी. उन्होंने बार-बार कैमरों पर कहा कि पद्मावती में दीपिका-रणवीर सिंह का कोई सीन साथ में नहीं हैं| खबर आजतक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here