व्हाइट हाउस

आज अमेरिकी एम्बेसडर निकी हेली ने पाकिस्तान को १६२६ करोड़ रुपए की अमेरिकी मिलिट्री एड रोके जाने की पुष्टि की हैं और इसके कुछ घंटे बाद ही व्हाइट हाउस की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया की अगले २४ से ४८ घंटे में हम आपको इस मामले में कुछ और बड़े अपडेट देंगे. इसके मायने साफ हैं कि अमेरिका पाकिस्तान के खिलाफ अब और भी कड़े कदम उठा सकता हैं. बता दें कि डोनाल्ड ट्रम्प ने १ जनवरी को कहा था कि पाकिस्तान अमेरिका से १५ साल में ३३ बिलियन डॉलर लेकर भी उसे बेवकूफ बना रहा हैं. निक्की हेली ने कहा कि पाकिस्तान कई साल से हमारे साथ डबल गेम खेल रहा था. निकी हेली ने यह भी कहा की अमेरिकी मदद रोकने की साफ सुथरी वजह हैं.

पाकिस्तान ने कई साल से हमारे साथ डबल गेम खेला. उन्होंने हमारे साथ कभी-कभी काम तो किया लेकिन अफगानिस्तान में मारे सैनिकों को निशाना बनाने वाले आतंकियों को भी पनाह दी. निकी हेली के यूएन में दिए बयान के बाद व्हाइट हाउस की स्पोक्सपर्सन सराह सेंडर्स ने मीडिया से बात की. सराह ने कहा हम जानते हैं कि पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ बहुत कुछ कर सकता हैं. हम चाहते हैं कि अब वो सामने आए और ये करके दिखाए. सेंडर्स ने बताया पहली बात, जहां तक पाकिस्तान का सवाल हैं तो हम चाहते हैं कि उसे आतंकवाद रोकने के लिए ज्यादा कदम उठाने पड़ेंगे. हम चाहते हैं कि वो ये काम करे.

जहां तक कुछ खास कदमों की बात हैं तो हम मीडिया को अगले २४ से ४८ घंटे में इस बारे में अपडेट देंगे और इस मामले में आपको सब बताएंगे. यूएस स्टेट डिपार्टमेंट की स्पोक्सपर्सन हीदर न्यूरेट ने कहा की पाकिस्तान हमारा अहम पार्टनर रहा हैं. उस इलाके में हमारे क्या इश्यू हैं, इस बारे में पाकिस्तान सब जानता हैं. वो ये भी जानता हैं कि क्या किया जाना चाहिए. प्रेसिडेंट ट्रम्प साउथ एशिया पॉलिसी के बारे में अगस्त में बता चुके हैं और पाकिस्तान को अपनी जमीन से आतंकवाद फैला रहे आतंकी संगठनों पर नतीजे देने वाली कार्रवाई करनी ही होगी. हीदर ने आगे कहा हम पहले भी उन्हें फंड देते रहे हैं लेकिन अब आगे मदद लेने के लिए उन्हें ये साबित करना होगा कि वो आतंकवाद के खिलाफ सटीक नतीजे देने वाली कार्रवाई कर रहे हैं. सेक्रेटरी टिलरसन और सेक्रेटरी मैटिस उन्हें पाकिस्तान में ही ये बातें समझा चुके हैं| खबर दैनिक भास्कर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here