उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच बढ़ते तनाव के मद्देनजर कल अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उत्तर कोरिया के परमाणु और मिसाइल योजनाओं के खिलाफ एक बड़ा युद्ध हो सकता है, और इस विवाद से निपटने के लिए कूटनीतिक परिणाम का सहारा लेना ज्यादा पसंद करूंगा मैं ट्रंप ने आगे बोला कि अब मौका है की हम उत्तर कोरिया के साथ बड़े विवादों को खत्म कर सकते हैं उन्होंने बताया कि वह शांति के साथ इस संकट को हल करना चाहते हैं ट्रंप सैन्य विकल्पों की जगह कई आर्थिक प्रतिबंधों के माध्यम से इस समस्या को हल करने पर जोर दे रहे हैं ट्रंप ने कहा कि हम कूटनीतिक तरीके से इस समस्या का हल करना चाहते हैं, लेकिन ये बहुत कठिन है एक इंटरव्यू में उन्होंने साउथ कोरिया के साथ यूएस ट्रेड एग्रीमेंट खत्म करने की बात भी कही वाशिंगटन पोस्ट की खबर के मुताबिक ट्रंप उत्तर कोरिया की बढ़ते सैन्य नीति के कारण एशिया-प्रशांत क्षेत्र पर एक महस्वपूर्ण साझेदारी को भी खत्म करने की कोशिश में लगे हुए हैं। इस दौरान २०११ में हुए उत्तर कोरिया के साथ अमेरिकी व्यापार संधि की भी कड़ी आलोचना की। उन्होंने इस समझौते को भयानक डील बताते हुए कहा कि ये हिलेरी क्लिंटन के कार्यकाल की बड़ी दुर्घटना थी उन्होंने कहा कि ये समझौता कभी होना ही नहीं चाहिए था। और बीते बुधवार अमेरिका ने अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण भी किया था। इसको भी उत्तर कोरिया के खिलाफ बड़ी कार्रवाई के तौर पर देखा जा रहा है। खबर अमर उजाला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here