हिंसा

किसान संगठनों की ओर से आयोजित ट्रैक्टर रैली के दौरान हिंसा

गणतंत्र दिवस पर किसान संगठनों की ओर से आयोजित ट्रैक्टर रैली के दौरान हिंसा मामले में कांग्रेस पार्टी ने नरेंद्र मोदी के नेतृत्वि वाली केंद्र सरकार और इसके गृह मंत्री अमित शाह पर तीखा हमला बोला है. कांग्रेस प्रवक्तात रणदीप सुरजेवाला ने बुधवार को कहा कि दिल्ली में हिंसा के लिए सीधे सीधे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ज़िम्मेदार हैं और पीएम मोदी को उन्हेंा बर्खास्तल करना चाहिए.

सुरजेवाला ने कहा कि ‘भीड़’ को लालक़िले में घुसने दिया गया और पुलिस कुर्सी पर बैठी रही. इसमें मोदी-शाह के ‘चेले’ दीप संधू की उपस्थिति चौंकाने वाली है. कांग्रेस प्रवक्ताे ने कहा, ‘किसान आंदोलन को सरकार बलपूर्वक नहीं हटा पायी तो इसे छलपूर्वक हटाने में लगी है. मोदी और शाह सरकार की नीति है-पहले प्रताड़ित करो, फिर मीटिंग-दर-मीटिंग थकाओ, फिर फूट डालो, फिर बदनाम करो और भगाओ.

सुरजेवाला ने सवाल किया, ४०-५० ट्रैक्टर और हुड़दंगी लाल क़िले में कैसे घुस सकते हैं? दीप संधू इन्हेंे कैसे लीड कर रहा था. उन्होंरने कहा कि हिंसा-हुड़दंग को रोक नहीं पाने की ज़िम्मेदारी किसानों की नहीं बल्कि सरकार की है. उन्होंाने कहा कि लाल किला हमारी आजादी का प्रतीक है. किसानों और गरीबों के लिए सर्वमान्य है तो ५००-७०० हिंसक तत्व जबरदस्ती लाल किले में कैसे घुस सकते हैं?

जो दीप सिद्धू, प्रधानमंत्री मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के साथ फोटो खिंचवाकर साझा करता है, उसे और उसके समर्थकों को लाल किले तक जाने की अनुमति किसने दी? क्या यह साफ नहीं दिखा कि पुलिस बैठकर तमाशा देख रही थी और टीवी कैमरों का मुंह लाल किले की प्राचीर की तरफ था| खबर एनडीटीवी इंडिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here