राम मंदिर

आज उत्तरप्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने अयोध्‍या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर कहा कि इस मुद्दे का हल बातचीत से ही निकल सकता हैं. अगर बातचीत से बात नहीं बनी तो न्‍यायपालिका इस मुद्दे का हल निकालेगी. उन्‍होंने यह भी कहा कि बातचीत के बाद दोनों पक्ष सरकार से जो भी मदद चाहते हैं, हम करेंगे. जी न्यूज़ से बातचीत के दौरान योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि ‘आज श्रीश्री रविशंकर से उनकी शिष्‍टाचार मुलाकात हुई.

श्रीश्री रविशंकर लखनऊ आए थे, इसी सिलसिले में उनसे मुलाकात हुई. जहां तक बात हैं राम मंदिर से जुड़े विवाद की, किसी भी संघर्ष का समाधान सिर्फ संवाद से हो सकता हैं और अगर ऐसा न हो तो न्‍यायपालिका इसका हल निकालेगी. मुख्‍यमंत्री ने कहा कि इस मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में पांच दिसंबर से नियमित आधार पर सुनवाई होने जा रही हैं और मुझे लगता हैं कि यदि बातचीत से इसका समाधान नहीं निकलता तो कोर्ट इसका हल निकालेगा. इसके साथ ही उन्‍होंने जोर देकर कहा कि अगर दोनों पक्ष बातचीत के जरिये हल निकालते तो अच्‍छा होता.

बातचीत से विवाद का हल हो सकता हैं. सीएम योगी ने कहा अगर दोनों पक्ष आपसी सहमति से हल निकालते हैं और सरकार से सहयोग की बात करेंगे तो हम जरूर मदद करेंगे. उन्‍होंने अयोध्‍या में राम मंदिर के निर्माण की संभावनाओं के सवाल के जवाब पर कहा कि अयोध्‍या में मर्यादा पुरुषोत्‍तम राम के सदैव दर्शन होते हैं और आगे भी होंगे. मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने यह स्‍पष्‍ट किया कि श्रीश्री रविशंकर को राम मंदिर निर्माण का बातचीत के जरिये हल निकालने के लिए किसी ने आमंत्रित नहीं किया हैं. वे स्‍वत: संवाद की प्रकिया को बहाल करने के लिए आगे आए हैं| खबर जी न्यूज़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here