मनीष सिंहजन अधिकार छात्र परिषद के बिहार प्रदेश प्रधान महासचिव मनीष सिंह विशाल ने प्रेस वार्ता में बताया की जब वो पटना यूनिवर्सिटी और जन अधिकार छात्र परिषद की टीम के साथ गोपालगंज पहुंचे तो वहा की हालत देख वो दंग हो गए और इसपे उन्होंने कहा की आजादी के इतने वर्षों बाद भी आज यहाँ के लोग गुलाम बने हुए हैं.

लगता हैं सरकार ने इस गांव को अपने नक़्शे से निकाल ही दिया हैं. उन्होंने बताया की आप कल्पना भी नही कर सकते की यहाँ किस स्थिति में लोग हैं जीवन जीने लायक नही हैं यहाँ की स्थिति. मनीष सिंह ने कहा जन अधिकार छात्र परिषद आम जनता, गरीब को इंसाफ दिलाने के लिए हरदम आगे आयेगा. उन्होंने बताया की सांसद पप्पू यादव ने हमेशा ही अपने अधिकार से वंचित लोगो की आवाज को उठाने का काम किया हैं और सांसद महोदय के आदेश पर हम सभी साथी इस गांव के लोगो से मिले

और उनकी समस्या को हल करने का प्रयाश किया और साथ ही भोजन, आवश्यक दवाएं व आर्थिक रूप से भी मदद की. उन्होंने अपने यात्रा का जिक्र करते हुए बताया की किस तरह उन्हें और उनके साथियों को उस इलाके तक जाने के लिए नाव का सहारा लेना पड़ा मनीष सिंह कहते हैं की सुशासन बाबु के सारे दावे यहाँ फेल हो रहे हैं सत्ता और विपक्ष बस कुर्सी के लिए लड़ रही हैं वो इन लोगो को बोट बैंक से ज्यादा कुछ नहीं समझते|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here