रक्षामंत्री के पद से इस्तीफा देने के बाद चौथी बार फिर गोवा के मुख्यमंत्री बने बीजेपी नेता मनोहर पर्रिकर के लिए आज का दिन काफी अहम है. सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार उन्हें आज विधानसभा में शक्ति परीक्षण के जरिए बहुमत साबित करना होगा. शक्ति परिक्षण को देखते हुए कांग्रेस खेमे में भी हलचल है. वोटिंग से पहले कांग्रेस के नाराज विधायक विश्वजीत राणे ने ५ युवा विधायकों के साथ एक होटल में बैठक भी की उधर, कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि गैर कांग्रेसी विधायकों को लुभाने और खरीद-फरोख्त पर बीजेपी ने इस सप्ताह गोवा में १००० करोड़ रुपये खर्च किए. वहीं इस बयान के बाद बीजेपी महासचिव ने कहा कि मुझे तो १००० करोड़ रुपये लिखने तक नहीं आता. मेरे पास एक छोटी-सी कार है. अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव गिरीश चोडनकर ने पणजी से २ बार विधायक निर्वाचित हुए सिद्धार्थ कुनकोलिनकर को गोवा विधानसभा का अस्थाई अध्यक्ष नियुक्त किए जाने का भी विरोध किया. खबर वनइंडिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here