राष्‍ट्रपतिराष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कल बी.आर. अम्बेडकर कौशल विकास अकादमी की आधारशिला रखी और स्‍टैंडअप इंडिया पहल के लाभार्थियों को स्‍वीकृति पत्र भी प्रदान किया और राष्ट्रपति ने आंध्र प्रदेश अनुसूचित जाति कॉपरेटिव वित्‍त निगम के लिए भूमि खरीद योजना का शुभारंभ भी किया इस मौके पर राष्ट्रपति को एसवी आर्ट्स कॉलेज परिसर में नागरिक अभिनंदन समारोह के दौरान सम्मानित भी किया गाया व उन्होंने जनसमुदाय को संबोधित भी किया.

इस अवसर पर बोलते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि आंध्र प्रदेश का इतिहास और वहां के विशिष्‍ट व्‍यक्ति गौरवशाली रहें हैं यहां की धरती महान अग्रणी लोगों की रही हैं और यहां की उप‍लब्धियां विशिष्‍ट रही और आन्ध्रा केसरी के उपनाम से जाने, जाने वाले श्री टी. प्रकाशन का देश के लिए योगदान बहुत अधिक हैं. आन्ध्र प्रदेश भाग्‍यशाली हैं जिसने देश को दो दूरदर्शी राजनीतिक नेता दिए दिवंगत मुख्‍यमंत्री एन टी रामाराव और हमारे पूर्व प्रधानमंत्री पी वी नरसिंहा राव अग्रणी नेताओं में रहे हैं और पिछले कुछ वर्षों में आन्‍ध्र प्रदेश की सामाजिक व आर्थिक उपलब्धियां भारत के बदलते स्‍वरूप का प्रतीक रही हैं.

जैसे-जैसे हम आगे बढ़ रहे हैं हमें यह आश्‍वस्त करना होगा कि उन्‍नति की यह यात्रा हम सब की हैं केवल कुछ लोगों की नहीं. राष्‍ट्रपति ने कहा कि तिरूपति में बनाई जाने वाली अम्‍बेडकर कौशल विकास और प्रशिक्षण अकादमी आधुनिक तकनीक से लैस होगी और इसे विश्‍वस्‍तरीय रोजगार प्रदान करने वाले केन्‍द्र में हाशिए के समुदायों के युवाओं को केन्‍द्र में रखा जाएगा. इस अकादमी में युवाओं को कौशल विकास में प्रशिक्षित किया जाएगा और इससे उन्हें सरकारी और निजी क्षेत्र में रोजगार प्राप्‍त करने में मदद मिलेगी. इस दौरान आन्‍ध्र प्रदेश के राज्‍यपाल ई.एस.एल. नरसिम्‍हन एवं आन्‍ध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री एन चन्‍द्रबाबू नायडू सहित अन्‍य गणमान्‍य व्‍यक्ति भी उपस्थित रहे|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here