ऑड-ईवनदिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा की दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के स्तर के मद्देनजर एक बार फिर ऑड-ईवन स्‍कीम को लागू किया जा सकता हैं.

गहलोत ने कहा कि दिल्ली सरकार प्रदूषण का स्तर बढ़ने के मद्देनजर सड़कों पर कारों की संख्या को प्रतिबंधित करने के लिए ऑड-ईवन योजना को फिर से लागू कर सकती हैं. बुधवार को मंत्री जी ने दिल्ली परिवहन निगम और अपने मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों को पत्र लिख कहा कि जब कभी ऑड-ईवन की घोषणा की जाती हैं, वे इसे लागू करने के लिए ‘पूरी तरह तैयार’ रहें. उन्होंने कहा, ‘दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ने के साथ सरकार को ऑड-ईवन योजना समेत आपात कदम उठाने होंगे’.

वाहनों की पंजीकरण संख्या के आखिरी अंक पर आधारित यह योजना वर्ष २०१६ में दो बार पहले १ से १५ जनवरी तक फिर दुबारा १५ से ३० अप्रैल तक लागू की गई थी. इस योजना के तहत ऑड ईवन संख्या वाले वाहन अपने अपने ऑड ईवन तारीखों वाले दिनों में सड़कों पर चलते हैं. वायु प्रदूषण स्तर के ४८ घंटे या इससे अधिक समय के लिए ‘आपात’ श्रेणी में रहने पर इसे लागू किया जा सकता हैं| खबर जी न्यूज़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here