विधायकों

पूर्व उपमुख्यमंत्री व राजद नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर बड़ा आरोप लगाया हैं. तेजस्वी ने आरोप लगाया कि नीतीश विधायकों की हत्या करवाने पर आमादा हैं. शुक्रवार को बेगूसराय के बखरी से विधायक उपेंद्र पासवान के ऊपर हुए जानलेवा हमले पर तेजस्वी ने कहा कि ६ महीने पहले जनादेश का बलात्कार और डकैती करने वाले नीतीश कुमार का पेट अभी नहीं भरा हैं और वह आरजेडी के विधायकों को मरवाने पर तुले हुए हैं. तेजस्वी यादव ने कहा कि पिछले ६ महीने में उपेंद्र पासवान राजद के चौथे विधायक हैं, जिन पर जानलेवा हमला किया गया हैं. इसके बावजूद भी मुख्यमंत्री मौनी बाबा बने हुए हैं और चुप्पी साधे बैठे हैं.

तेजस्वी ने कहा कि नीतीश अपनी कुर्सी बचाने के चक्कर में काला लबादा ओढ़कर कुर्सी से ही चिपक गए हैं. नीतीश पर तंज कसते हुए तेजस्वी ने कहा कि जैसा राजा वैसा ही प्रशासनिक तंत्र. आरजेडी नेता ने कहा कि जनादेश की डकैती करने के बाद पूरा प्रशासनिक अमला डकैतों की तरह व्यवहार कर रहा हैं. नीतीश को चुनौती देते हुए तेजस्वी ने कहा कि अगर उनकी चुनावी राजनीति में थोड़ी भी आस्था बची हुई हैं तो उन्हें आरजेडी के साथ दो-दो हाथ कर लेना चाहिए. ना की गोलियां चलवा कर उनके विधायकों को मरवाने की कोशिश करनी चाहिए.

तेजस्वी ने कहा कि बिहार की गिरती कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने की काबिलियत मुख्यमंत्री में नहीं हैं तो आखिर वह किस मुंह से बिहार में नैतिकता और समाज सुधार की बात करते हैं? नीतीश को हाल में ही केंद्र सरकार द्वारा मिले जेड प्लस सिक्योरिटी को लेकर बोलते हुए तेजस्वी ने कहा कि खुद मुख्यमंत्री बुलेट प्रूफ कार, केंद्र की जेड प्लस और सीआरपीएफ की सुरक्षा में रहते हैं और लेकिन विपक्षी नेताओं की सुरक्षा और उन पर हो रहे हमले की जिम्मेदारी आखिर कौन लेगा? नीतीश के ऊपर चल रहे हत्या के मामले का जिक्र करते हुए तेजस्वी ने कहा कि जिस राज्य के मुख्यमंत्री पर खुद संगीन हत्या का मामला चल रहा हो उससे दूसरों की सुरक्षा की उम्मीद क्या की जा सकती हैं| खबर आजतक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here