नीतीशबीते दिन बिहार में हुई नई सरकार के गठन के बाद शनिवार को मंत्रिमंडल का विस्तार किया गया. नीतीश कुमार की कैबिनेट में २६ मंत्रियों ने शपथ ली और मंत्रिमंडल में जातीय समीकरण का विशेष ध्यान रखा गया हैं.

लालू यादव की आरजेडी और महागठबंधन को तोड़ कर सत्ता में आई एनडीए सरकार में बगावत को रोकने के लिए सभी वर्गों के नेताओं को महत्व दिया गया और नितीश के इस नए मंत्रिमंडल में जेडीयू से १४ और बीजेपी के ११ विधायकों को शामिल किया गया हैं जबकि रामविलास पासवान की एलजेपी से उनके भाई पशुपति कुमार पारस को मंत्री बनाया गया| खबर आजतक

जेडीयू कोटे के मंत्री  

ललन सिंह - भूमिहार, विजेंद्र यादव - यादव
श्रवण कुमार - कुर्मी, कृष्णनंदन वर्मा - कुशवाहा
महेश्वर हजारी - पासवान, मदन सहनी - मल्लाह
संतोष निराला - दलित, खुर्शीद आलम फ़िरोज़ - मुस्लिम
शैलेश कुमार - धानुक, जयकुमार सिंह - राजपूत
मंजू वर्मा - कुशवाहा, कपिलदेव कामत - धानुक 
रमेश ऋषिदेव - मुसहर, दिनेश चंद्र यादव - यादव

बीजेपी कोटे के मंत्री

नंदकिशोर यादव - यादव, प्रेम कुमार - कहार
रामनारायण मंडल - कुर्मी, विनोद नारायण झा - ब्राह्मण
सुरेश शर्मा - भूमिहार, कृष्ण कुमार ऋषि - मुसहर
बिनोद कुशवाहा - कुशवाहा, राणा रणधीर - राजपूत
विजय सिन्हा - भूमिहार, प्रमोद कुमार - बनिया
बृजकिशोर बिंद - बिंद

एलजेपी कोटे के मंत्री 

पशुपति कुमार पारस - पासवान

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here