श्री रविशंकर

श्री श्री रविशंकर ने गुरुवार को अयोध्या में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राम मंदिर के मुद्दे पर कहा कि विवाद सुलझाने में समय लग सकता हैं लेकिन दोनों पक्षों के सहयोग से ही स्थायी समाधान निकल सकता हैं. श्री श्री रविशंकर ने कहा कि मैं ये सोचकर नहीं आया हूं कि विवाद हल हो ही जाएगा. विवाद सुलझाने में दो तीन महीने का समय लग सकता हैं. लेकिन मुझे पता हैं कि हमारे देश में स्नेह की कमी नहीं हैं. सभी बैठकर इस मुद्दे पर हल निकाल सकते हैं.

उन्होंने कहा कि हमारे पास कोई फॉर्मूला नहीं हैं और ना ही कोई फॉर्मूले लेकर आया हूं. लेकिन मैं जरूर कहूंगा कि ये अच्छा मौका हैं, दोनों पक्ष बैठकर इस मुद्दे का हल निकाल सकते हैं. आध्यात्मिक गुरु ने कहा कि इस मुद्दे को आपसी सहमति से सुलझाने में कुछ महीनो का वक्त लग सकता हैं. दोनों पक्षों के युवा संगठन मेरे पास हैं. दोनों पक्षों को बातचीत का मंच देना चाहता हूं. श्री रविशंकर ने ये भी बताया की मुस्लिम समुदाय राम मंदिर के विरोध में नहीं हैं. उन्होंने कहा कि ये मौका लोगो में सौहार्द्य दिखाने का हैं.

कभी-कभी लगता हैं कि ये असंभव हैं लेकिन इसको संभव कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि कोशिश करेंगे तो कोई हल निकल ही आएगा. गौरतलब हैं कि इससे पहले अयोध्या में श्री श्री रविशंकर ने कहा कि राम मंदिर मुद्दे पर फॉर्मूला निकालना आसान नहीं हैं, लेकिन वह १०० बार फेल होने के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कि कोर्ट का फैसला एक पक्ष पर भारी पड़ेगा, हमें सोचने के लिए थोड़ा वक्त चाहिए. राजनीति और कोर्ट को इन मुलाकातों से अलग रखें| खबर आजतक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here