अमिताभ बच्चन

कल हिन्दी सिनेमा के दिग्गज अभिनेता शशि कपूर का निधन मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में हुआ. किडनी सम्बंधी समस्या से गुजर रहे शशि कपूर के निधन की खबर सुनते ही महानायक अमिताभ बच्चन उन्हें श्रंद्धाजलि देने पहुंचे. देर रात ऐश्वर्या अभिषेक संग अमिताभ बच्चन उनके मुंबई स्थित घर पहुंचे. शशि कपूर के साथ ‘दीवार’, ‘सुहाग’, ‘त्रिशूल’ जैसी फिल्मों में साथ काम कर चुके अमिताभ बच्चन ने अपने ब्लॉग पर उन्हें याद किया. हम जिंदगी को अपनी कहां तक सम्भालते. इस कीमती किताब का कागज खराब था रूमी जाफरी की इस पंक्ति के साथ अमिताभ ने उन्हें श्रंद्धाजलि दी.

अपने ब्लॉग पर अमिताभ बच्चन ने शशि कपूर से जुड़ी कई यादें साझा की और उन्हें पहली बार मैगजीन पर देखने से लेकर पहली मुलाकात और आगे के सफर को याद किया हैं. बच्चन ने बताया कि शशि कपूर की यादास्त बेहद शानदार थी. शशि कपूर को उन्होंने अपना खूबसूरत दोस्त, समधि बताया. ब्लॉग में अमिताभ ने इस बात का जिक्र किया कि शशि कपूर उन्हें बबुआ बुलाते थे. ६० के दशक में जब अमिताभ बच्चन फिल्म इंडस्ट्री में संघर्ष कर रहे थे, तब उन्होंने शशि कपूर की तस्वीर को पहली बार देखा. मैगजीन में उनकी शानदार तस्वीर छपी थी और साथ ही लिखा था कि राज और शम्मी कपूर के छोटे भाई जल्द ही डेब्यू करने जा रहे हैं.

इसे पढ़कर अभिनेता बनने की चाहत रखने वाले अमिताभ बच्चन के मन में ख्याल आया था की यदि आसपास ऐसे आदमी हो, तो मेरा कोई चांस नहीं. लेकिन अमिताभ बच्चन के साथ शशि कपूर की जोड़ी खूब सराही गई थी. साल १९७५ में आई फिल्म ‘दीवार’ में दोनों ने भाईयों का किरदार निभाया था. फिल्म के एक सीन में शशि कपूर का डायलॉग ‘मेरे पास मां हैं’ आज भी दर्शकों की जुबां पर चढ़ा हुआ हैं. इनकी जोड़ी एहसास, सुहाग, त्रिशूल, नमक हलाल, रोटी कपड़ा और मकान समेत कई फिल्मों में जमी थी| खबर एनडीटीवी इंडिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here