हॉकी

आज भारतीय हॉकी टीम ने महिला एशिया कप के फाइनल में चीन को मात देते हुए खिताब अपने नाम कर लिया और भारत ने तय समय में मुकाबला एक एक से ड्रॉ रहने के बाद पेनाल्टी शूटआउट में चीन को ५-४ से मात देते हुए खिताब पर कब्जा जमाया. भारत को ननजोत कौर ने २५वें मिनट में गोल कर एक शून्य से आगे कर दिया था. वह जीत के करीब बढ़ रही थी, लेकिन चौथे क्वार्टर के ४७वें मिनट में टिनाटियान लु ने पेनाल्टी कॉर्नर को गोल में बदलते हुए मुकाबले में बराबरी कर ली.

इसके बाद दोनों टीमें गोल करने में नाकाम रहीं और मैच पेनाल्टी शूटआउट में गया जहां भारत ने जीत हासिल की. इस जीत के साथ ही टीम ने अगले साल इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप के लिए क्वालीफाई कर लिया और भारतीय टीम पूरे टूर्नामेंट में अपराजित रही. भारत ने लीग मैच में चीन को चार एक से मात दी थी. हालांकि पिछले साल एशिया चैम्पियंस ट्रॉफी में चीन ने भारत को ३-२ से मात दी थी और इस टूर्नामेंट में भारत की जीत का श्रेय अग्रिम पंक्ति की सफलता को जाता हैं. भारत ने टूर्नामेंट में ३२ गोल किए हैं और उसकी ताकत पेनाल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील करना रही. पेनाल्टी कॉर्नर को गोल में बदलकर खिताब पर कब्जा भी जमाया. भारतीय टीम ने इस टूर्नामेंट में अब दो बार खिताबी जीत हासिल कर ली| खबर जी न्यूज़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here