मीडियाराष्ट्रीय प्रेस दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभी मीडिया कर्मियों को शुभकामनाएं दी और कहा कि स्वतंत्र प्रेस जीवंत लोकतंत्र की आधारशिला हैं और उनकी सरकार उसकी स्वतंत्रता बनाये रखने के लिए पूर्ण रूप से प्रतिबद्ध हैं. मोदी ने ट्वीट के जरिए ये बात बताई की ‘स्वतंत्र प्रेस जीवंत लोकतंत्र की आधारशिला हैं’

हम सभी रूपों में प्रेस और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता बनाए रखने के लिए पूर्ण रूप से प्रतिबद्ध हैं. हम आशा करते हैं कि हमारी मीडिया का प्रयोग १२५ करोड़ भारतीयों के कौशल, शक्ति और सृजनात्मकता को दिखाने के लिए होगा’ उन्होंने मीडिया और खास तौर से संवाददाताओं व कैमरापर्सन के कठिन परिश्रम की प्रशंसा की, जो मौके पर पहुंचकर अथक परिश्रम करते हैं और राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय खबरों को उनका आकार देते हैं.

राष्ट्रीय प्रेस दिवस १९६६ से प्रति वर्ष मनाया जाता हैं और प्रथम प्रेस आयोग ने भारत में प्रेस की स्वतंत्रता की रक्षा एवं पत्रकारिता में उच्च आदर्श कायम करने के उद्देश्य से एक प्रेस परिषद् की कल्पना की थी. जिसके तहत ४ जुलाई १९६६ को भारत में प्रेस परिषद् की स्थापना की गई जिसने १६ नंवबर १९६६ से अपना विधिवत कार्य शुरू किया| खबर पीटीआई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here