चुनाव आयोगईवीएम में गड़बड़ी मामले में चुनाव आयोग पर आरोप लगा रहे राजनीतिक दलों को खुली चुनौती देने के लिए चुनाव आयोग ने पूरी तैयारी कर ली हैं चुनाव आयोग आज स्पेशल प्रोग्राम के जरिये लोगों को इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) और वीवीपैट मशीनों के काम करने के तरीके का डेमो देगा और इसी प्रोग्राम में ईवीएम को हैक किए जाने की चुनौती की तारीखों की घोषणा भी करेगा ईवीएम की विश्वसनीयता को ले कई विपक्षी पार्टियां लगातार सवाल उठा रही हैं

ईवीएम से छेड़छाड़ की उनकी शंकाओं को दूर करने के लिए ये प्रोग्राम रखा जा रहा हैं निर्वाचन आयोग की घोषणा के मुताबिक ईवीएम और वीवीपैट की कार्यप्रणाली प्रदर्शित किए जाने के बाद एक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी बुलाई जाएगी चुनाव आयोग के मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने बीती १२ मई को इस मुद्दे पर बुलाई सर्वदलीय बैठक के बाद ईवीएम में गड़बड़ी किए जा सकने के दावे को सही साबित करने की चुनौती देने की घोषणा की थी.

ईवीएमआयोग के एक सीनियर ऑफिसर ने बताया कि राजनीतिक दलों को २९ मई के बाद जून के पहले हफ्ते में कभी भी ईवीएम में गड़बड़ी करने की चुनौती दी जा सकती है अधिकारी ने बताया कि आयोग द्वारा सभी सात राष्ट्रीय दल और ४८ राज्य स्तरीय दलों को खुली चुनौती में हिस्सा लेने के लिए बुलाया जाएगा. इसके लिए आयोग चुनौती में शामिल होने के इच्छुक दल को हाल ही में सम्पन्न हुए ५ राज्यों के विधानसभा चुनाव के किसी भी मतदान केंद्र की मशीन के साथ छेड़छाड़ करने का ऑप्शन चुनने के लिए एक हफ्ते का समय भी देगा और सभी को अपना दावा सही साबित करने का अलग-अलग मौका भी दिया जाएगा | खबर आजतक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here