राष्ट्रपति बीजेपीजुलाई में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में बीजेपी के लिए अपनी पसंद का राष्ट्रपति चुनने का रास्ता साफ होते जा रहा है आंध्र प्रदेश के दल वाईएसआर कांग्रेस के नेता जगनमोहन रेड्डी ने पीएम नरेंद्र मोदी को समर्थन देने का वादा किया है वैसे बीजेपी के नेतृत्‍व वाला एनडीए पहले से ही काफी मजबूत स्थिति में है ४१० सांसद और १६९१ विधायकों की ताकत से एनडीए के पास तक़रीबन पाच लाख से अधिक वोट हैं. राष्ट्रपति चुनाव के लिए देश भर के सभी ४१२० विधायकों और ७७६ सांसदों को मिला कर चुनाव मंडल बनता है.

उन सभी के पास लगभग दस लाख वोट है और जीतने के लिए ५.५० लाख वोट ही चाहिए उधर टीआरएस और एआईएडीएमके के दोनों भाग भी एनडीए उम्मीदवार का समर्थन करने का संकेत दे रही है. टीआरएस के पास २२००० वोट हैं जबकि एआईएडीएमके के दोनों भाग के पास ५९००० वोट हैं. इस तरह से एनडीए के पास जरूरी बहुमत से भी अधिक आंकड़ा बनने के आसार हैं उधर, विपक्ष भी गठजोड़ करने में लगा है.

कमान कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने संभाली है. नीतीश कुमार जैसे विपक्षी नेता सोनिया गांधी से इस संबंध में मुलाकात कर चुके हैं. संभावना है कि सोनिया गांधी सोमवार को तृणमूल कांग्रेस नेता ममता बनर्जी से मिलेंगी. लेकिन विपक्ष के पास आंकड़ें नहीं हैं, ऐसे में ये सांकेतिक मुकाबला ही होगा विपक्ष की अधिकांश पार्टियों को मिला कर तक़रीबन चार लाख वोट बनते हैं. कांग्रेस की उम्मीदें बीजेडी, टीआरएस, एआईएडीएमके और वाईएसआर कांग्रेस पर टिकी हैं लेकिन बीजेडी को छोड़ कर बाकी सभी पार्टियां एनडीए के साथ जाने को तैयार दिख रही है सवाल ये है कि अगला राष्ट्रपति कौन हो सकता है.

फिलहाल तो इसका जवाब सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास है. हालांकि बीजेपी नेताओं में कई नाम की चर्चा है. सत्‍ता पक्ष की तरफ से लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू या शहरी विकास मंत्री एम वेंकैया नायडू का नाम लिया जा रहा है. हालांकि आखिरी मौके पर किसी चौंकाने वाले नाम से इनकार नहीं किया जा सकता. जून में बीजेपी कोर ग्रुप और आरएसएस के वरिष्ठ नेताओं के साथ बातचीत के बाद नाम तय होगा | खबर एनडी टीवी इंडिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here