मनमोहनदिल्ली में आयोजित कांग्रेस पार्टी के ८४वें महाधिवेशन का आज तीसरा और अंतिम दिन हैं. महाधिवेशन को आज पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने संबोधित किया. अपने भाषण में उन्होंने बीजेपी सरकार पर देश की अर्थव्यवस्था को बर्बाद करने का इल्जाम लगाया. पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने आरोप लगाया कि मौजूदा बीजेपी सरकार ने अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया हैं. उन्होंने ये भी कहा कि मोदी जी ने चुनाव प्रचार में बहुत बड़े-बड़े वादे किए, लेकिन पूरे नहीं किए.

मनमोहन सिंह ने कहा की हर साल दो करोड़ रोजगार का वादा किया गया, लेकिन २ लाख नौकरियां भी नहीं दी गईं. नोटबंदी और गलत तरीके से लागू किए गए जीएसटी ने रोजगार खत्म करने का काम किया. पूर्व पीएम ने यहां मोदी जी के वादों की भी आलोचना की. उन्होंने पीएम मोदी का नाम लेते हुए कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया गया था, लेकिन पिछले ४ साल में हालत ये हैं कि कृषि विकास की रफ्तार थमी हैं.

मनमोहन सिंह ने कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने के लिए विकास दर का १२ फीसदी होना जरूरी हैं, जो फिलहाल संभव नहीं दिखती. ऐसे में ये वादा एक जुमला भर नजर आता हैं. पूर्व पीएम ने पाकिस्तान से संबंधों पर भी अपनी बात रखी. उन्होंने कहा कि आतंकवाद की समस्या पर समाधान के लिए भारत और पाकिस्तान दोनों देशों को बात करनी होगी. हालांकि, उन्होंने ये भी कहा कि पाकिस्तान की तरफ से क्रॉस बॉर्डर आतंकवाद बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

जम्मू-कश्मीर के मौजूदा बिगड़ते हालात को लेकर भी उन्होंने मोदी सरकार को घेरा. मनमोहन सिंह ने आरोप लगाया कि जो हालात अभी जम्मू-कश्मीर में हैं, वैसे पहले कभी नहीं हुए. उन्होंने कहा कि कश्मीर में माहौल लगातार बिगड़ रहा हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि आंतरिक सुरक्षा और क्रॉस बॉर्डर आतंकवाद से निपटने के लिए मोदी सरकार ने कोई रास्ता नहीं निकाला. वो ये भी बोले कि जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग हैं.

लेकिन ये भी जरूरी हैं कि हम यहां की समस्याओं को देखें और गंभीरता से उसका समाधान तलाश करें. इससे पहले अधिवेशन में कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने मौजूदा सरकार की विदेश नीति पर प्रस्ताव पेश किया. जिसमें उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने विदेशों में भारत को बदनाम किया हैं. आनंद शर्मा ने कहा, ‘पीएम मोदी ने विदेशों में जाकर पूर्व प्रधानमंत्रियों को बदनाम किया. विदेशों में भारत की छवि खराब करने के लिए कांग्रेस पीएम मोदी की आलोचना करती हैं| खबर आजतक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here