मोदीचिकित्सा व इलाज़ की बढती दरों को देख प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गरीबों को सस्ता इलाज मुहैया कराने की जररत पर जोर दिया और आयात पर निर्भरता कम करने के लिए चिकित्सा उपकरणों को देश में बनाने के लिए स्टार्ट अप शुरू करने का आह्वान किया टाटा मेमोरियल सेंटर के सामाजिक सेवा के ७५ साल पूरे होने पर मुंबई में आयोजित कार्यक्रम को नयी दिल्ली से वीडियो कान्फ्रेंस द्वारा संबोधित करने के साथ और एक पुस्तक का विमोचन करने के बाद

मोदी ने कहा की हर साल लगभग दस लाख से ज्यादा लोगों को कैंसर होता हैं और बीमारी से हर साल करीब साढे छ लाख लोग मर जाते हैं कैंसर पर शोध के लिए अंतरराष्ट्रीय एजेंसी ने आशंका जताई हैं कि ये आंकड़ें केवल तीस सालो में दोगुने हो जाएंगे इसपे प्रधानमंत्री ने कहा कि ७० फीसदी चिकित्सा उपकरण विदेशों से लाया जाता हैं जिससे इलाज काफी महंगा पड़ता हैं उन्होंने कहा इस स्थिति को बदलना चाहिए क्योंकि इससे इलाज महंगा पड़ता हैं

मोदी ने कहा मैं स्टार्ट अप उद्योग को आगे आने और इस पर शोध करने की अपील करता हूं कि चिकित्सीय उपकरणों को जैसे स्वदेश में बनाया जा सकता हैं हम चाहते हैं कि वैसे यंत्रों को यहां भी बनाया जाए ताकि मरीजों को फायदा हो प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार का उद्देश्य ग़रीब और जरुरतमंदों को सबसे सस्ती और अच्छी स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराई जाए इसलिए वह १५ वर्ष की अवधि के बाद समग्र नजरिए के साथ राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति लेकर आई हैं | खबर पीटीआई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here