तीन तलाक

तीन तलाक खत्म करने हेतु केन्‍द्र सरकार अपने शीतकालीन सत्र में विधेयक ला सकती हैं और इसके लिए सरकार ने एक मंत्री समूह भी बनाया हैं और आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक को असंवैधानिक बताया हैं और कोर्ट के फैसले के बाद भी तीन तलाक के मामले सामने आए हैं. वहीं कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा के पूरे साल में बजट, मनसून और शीतकालीन सत्र के दौरान सिर्फ ३८ दिन ही संसद चली हैं और ७० साल का रिकार्ड तोड़ा इन्होंने सदन की सीढ़ी चूम कर आए पर सदन में लोगों के हितों पर चर्चा से भाग रहे हैं.

उन्‍होंने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी के मुद्दे के सवाल भी सदन में पूछे जाते लेकिन सरकार सब सवालों से बच रही हैं. गुलाम नबी ने कहा कि पीएमओ ही सारे फैसले लेता हैं. सदन में रक्षा डील पर सवाल पूछा जाता हैं लेकिन ये सरकार बस चुनाव करने-कराने की मशीन बन गई हैं. उन्‍होंने कहा कि चुनाव आयोग ने पीएम मोदी के जहाज पर चढ़ने पर पैसा नहीं जोड़ा था ताकि वे किसी राज्य में एकाध बार जा सकें. पर ये पीएम तो जहाज से उतरते ही नहीं हैं. कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि सरकार को डर हैं कि चर्चा चली तो गुजरात में हालत खराब हो सकते हैं. उन्‍होंने कहा कि मोदी जी भूल गए हैं कि वो डेमोक्रेसी में काम नहीं कर रहे मनमानी कर रहे हैं| खबर एनडीटीवी इंडिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here