बीजेपीबीजेपी ने तोड़ दिया कांग्रेस पार्टी के ६५ साल के वर्चस्व को राज्यसभा के इतिहास में. मध्य प्रदेश के सम्पतिया उइके ने जैसे ही सदस्यता ग्रहण की बीजेपी के राज्यसभा में ५८ सदस्य हो गए और वह कांग्रेस पार्टी के ५७ सदस्यों से एक सदस्य की संख्या से आगे निकल गई.

नरेंद्र मोदी सरकार के मई २०१४ में सत्ता में आने के बाद यह पहला मौका हैं जब राज्यसभा में भाजपा पार्टी के सबसे ज्यादा सांसद हैं. वहीं, सबसे बड़ी पार्टी होने के बाद भी बीजेपी २४५ सीटों वाली राज्यसभा में बहुमत से अभी भी काफी पीछे हैं. वैसे कांग्रेस पार्टी २०१८ तक राज्यसभा में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में रहती लेकिन उसके दो सदस्यों की मृत्यु के बाद इस साल उसके सदस्यों की संख्या कम हो गई और उइके का चुनाव निर्विरोध हो गया.

वह केंद्रीय मंत्री अनिल माधव दवे के स्थान पर राज्यसभा पहुंचे दवे का निधन इसी साल मई में हुआ था. अगले मंगलवार को राज्यसभा की ९ सीटों के चुनाव होने वाले हैं और इनमें से ६ पश्चिम बंगाल से हैं और ३ गुजरात से इस चुनाव से बीजेपी की बढ़त पर कोई असर नहीं पड़ेगा. बीजेपी को उम्मीद हैं कि वह दो सीटें गुजरात की जीत जाएगी और तीसरी सीट पर वह कांग्रेस के अहमद पटेल को जीतने नहीं देना चाहती| खबर एनडी टीवी इंडिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here