अन्ना

दिल्ली स्थित सीजीओ कॉम्प्लेक्स में स्टाफ सेलेक्शन कमीशन दफ्तर के बाहर पेपर लीक मामले को लेकर छात्र प्रदर्शन कर रहे हैं. एक हफ्ते से जारी उनके इस प्रदर्शन को अन्ना हजारे का साथ भी मिल गया हैं. रविवार को अन्ना हजारे सीजीओ कॉम्प्लेक्स पहुंचे और विरोध प्रदर्शन में शामिल एसएससी छात्रों से मुलाकात की. बता दें कि एसएससी द्वारा आयोजित सीजीएल २०१७ के टियर २ की परीक्षा के प्रश्न पत्र और आंसर की लीक हो गई थी, जिसके बाद छात्रों ने प्रदर्शन करना शुरू कर दिया. छात्रों ने पेपर लीक होने पर आरोप लगाते हुए एसएससी की परीक्षा में बड़े स्तर पर हो रही गड़बड़ी की सीबीआई जांच कराने की मांग की हैं. ताकि पेपर लीक में जो भी दोषी शामिल हैं, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई हो सके.

हालांकि, हजारों की संख्या में प्रदर्शन कर रहे छात्रों का कहना हैं कि उनका भविष्य बर्बाद होने जा रहा हैं और ऐसे में सरकार की यह चुप्पी चुभ रही हैं. शुक्रवार को देश भर के अलग-अलग हिस्सों से आए छात्रों ने काली होली मनाई और अपना विरोध दर्ज कराया. इधर, दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने शनिवार को छात्रों से मुलाकात की और छात्रों के दुख को अपना दुख बता कर सीबीआई जांच का भरोसा दिया. छात्रों ने मांग रखी कि जब तक इस मामले की सीबीआई जांच के आदेश नहीं दिए जाते हैं, तब तक वह लोग यहां से नहीं हटेंगे.

गौरतलब हैं कि इसी साल फरवरी में हुई एसएससी परीक्षा में कथित तौर पर सवाल और आंसरशीट लीक होने के आरोप लग रहे हैं. स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की ये परीक्षा १७ फरवरी से २२ फरवरी के बीच सम्पन्न हुई थी. ये ऑनलाइन परीक्षा थी, लेकिन छात्रों का आरोप हैं कि परीक्षा शुरू होने के कुछ देर बाद ही सवालों और जवाबों के स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल हो गए. बता दें कि एसएससी बहुत सारी परीक्षा करवाती हैं, जिन्हें तीन भागों में बांटा जाता हैं. पहला सीजीएल, दूसरा सीएचएसएल और तीसरा एमटीएस. इन तीनों परीक्षाओँ के लिए योग्यता अलग-अलग तय की जाती हैं| खबर आजतक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here