लड़ाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के विज्ञान भवन में इस्लामिक हेरिटेज पर अपने विचार रखते हुए कहा कि जॉर्डन नरेश की मौजूदगी गर्व का विषय हैं और उनकी पहल सराहनीय हैं. पीएम मोदी ने कहा की दिल्ली सूफियाना कलामों की सरजमीं हैं. दुनिया के सभी धर्म भारत में पले-बढ़े हैं. भारत ने दुनिया को अमन की राह दिखाई हैं. पीएम मोदी ने कहा कि दिल्ली मान्यताओं के मुताबिक इंद्रप्रस्थ हैं. उन्होंने कहा कि हमारी विविधताओं पर हमें गर्व हैं. हम हिंसा और आतंकवाद से मुकाबला करने में सक्षम हैं.

पीएम ने कहा कि केवल मजहबों के पैगाम से ही आतंकवाद पर काबू पाया जा सकता हैं. पीएम ने यह भी कहा कि भारत में सभी को एक साथ लेकर चलने की परंपरा रही हैं. उन्होंने कहा कि आज भारत के मुसलमान के एक हाथ में कुरान हैं और दूसरे हाथ में कंप्यूटर हैं. देश की खुशहाली से ही सभी की खुशहाली जुड़ी हैं. आतंकवाद पर भी पीएम ने अपने विचार रखे. उन्होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ मुहिम किसी धर्म के खिलाफ नहीं हैं.

मजहब का मर्म अमानवीय नहीं हो सकता. इस मौके पर जॉर्डन नरेश ने कहा कि पूरी दुनिया एक परिवार हैं. दया और सहिष्णुता ही हमारे मूल्य हैं. उन्होंने कहा कि विश्व भर में आतंकवाद के खिलाफ लड़ी जा रही लड़ाई मुस्लिम या किसी भी धर्म को टारगेट नहीं करती हैं. उन्होंने कहा कि पैगंबर मोहम्मद ने दया और मानवता पर ही जोर दिया हैं, इसी पर मैं विश्वास करता हूं और यही अपने बच्चों को भी सिखाता हूं| खबर अमर उजाला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here