भारतीय रेलवे आए दिन आम जनता को रेल यातायात के दौरान परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं और आप भारतीय रेलवे से संबंधित कोई शिकायत दर्ज कराना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास ट्विटर, फेसबुक, हेल्पलाइन या शिकायत रजिस्टर आदि की सुविधा हैं. लेकिन अब भारतीय रेलवे इससे आगे एक कदम बढ़ा रहा हैं. भारतीय रेलवे इस महीने के आखिरी में ‘मदद’ (मोबाइल एप्लीकेशन फॉर डिजायर्ड असिस्टेन्स ड्यूरिंग ट्रैवल) के नाम से एक मोबाइल एप्लीकेशन लॉन्च करने जा रहा हैं जिसके जरिए यात्री खाने की गुणवत्ता या गंदे शौचालय या किसी अन्य मुद्दे पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकेंगे.

भारतीय रेलवे से संबंधित कोई शिकायत दर्ज कराना चाहते हैं तो

इस एप के जरिए वे आपात सेवाओं के लिए भी आग्रह कर सकेंगे. एप के जरिए संबंधित विभागों के संबंधित अधिकारियों तक सीधे शिकायत पहुंच जाएंगी और ऑनलाइन कार्रवाई हो सकेगी. इस तरह से शिकायतों का पंजीकरण और निवारण की पूरी प्रक्रिया तेजी से हो सकेगी. यात्री अपनी शिकायतों की यथा स्थिति और मामले में की गयी कोई भी कार्रवाई की जानकारी भी हासिल कर सकेंगे.

प्रस्तावित एप से रेलवे के सभी यात्रियों की शिकायतें और निवारण तंत्र एक मंच पर आ जाएंगे. भारतीय रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया की अब तक हमारे पास १४ माध्यम हैं जिसके जरिए यात्री अपनी शिकायतें दर्ज करा सकते हैं. सबका जवाब देने का अपना समय हैं और साथ ही जवाब का मानक भी अलग हैं. कभी कोई सक्रिय रहता हैं, कभी नहीं रहता हैं.

अपनी शिकायतें पीएनआर टाइप कर दर्ज कर सकते हैं

हम एक पारदर्शी, मानकीकृत शिकायत निवारण प्रक्रिया चाहते हैं. यह एप इस महीना शुरू हो सकता हैं. यात्री अपनी शिकायतें पीएनआर टाइप कर दर्ज कर सकते हैं. पंजीकरण के समय एसएमएस के जरिए उन्हें एक शिकायत आईडी मिलेगा. इसके बाद संबंधित विभाग द्वारा की गयी कार्रवाई के बारे में व्यक्तिगत एसएमएस के जरिए जानकारी दी जाएगी.

अधिकारी ने बताया कि इस एप में महीने में मिलने वाली कुल शिकायतों और भारतीय रेलवे द्वारा उनके निवारण के बारे में भी जानकारी मुहैया करायी जाएगी. उन्होंने बताया ‘इस व्यवस्था के शुरू होने का मतलब यह नहीं हैं कि हम अन्य मंचों पर शिकायतों पर कार्रवाई नहीं करेंगे. हम इस एकीकृत व्यवस्था का उपयोग करना चाहते हैं| खबर एनडीटीवी इंडिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here