बिजली केजरीवाल सरकार कि बिजली कंपनियों के साथ मिली भगत

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सरकार पर एक बार फिर दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने हमला बोला. मनोज तिवारी ने कहा कि केजरीवाल सरकार राज्य सरकारें बिजली कंपनियों के साथ मिली भगत करके, उनको डरा धमका कर समान्य जनता के ऊपर बिजलीके खर्च का लोड बढ़ा रही हैं जो कि कहीं से भी जायज नहीं हैं.

गौरतलब हैं कि इससे पहले दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने आरोप लगाया था कि केन्द्र सरकार विधेयक लाकर बिजली कंपनियों का होल्ड राज्य सरकार से छीनकर अपने हाथ में लेना चाहती हैं, जिससे दिल्ली की जनता के लिये बिजलीके दाम बढ़ना तय हैं. मनोज तिवारी ने कहा कि ऐसी लूट को समाप्त करने के लिये केन्द्र सरकार एक विधेयक लेकर आ रही हैं. उन्होंने कहा कि इस देश में हर राज्य में बिजली देने का काम केन्द्र सरकार का ही हैं लेकिन जब राज्य सरकारें बिजलीका अतिरिक्त भार जनता पर डालेगी तो केन्द्र सरकार को इस पर विधेयक लाना ही पड़ा. यह विधेयक संघीय ढांचे के अंतर्गत लाया जा रहा हैं. इसमें कहीं भी अधिकारों का दुरूपयोग नहीं किया जा रहा हैं.

इससे दिल्ली की जनता को लाभ होगा और बिजलीके रेट कम होंगे. मनोज तिवारी ने कहा कि किसी भी राज्य के राजस्व को बिना छेड़े अगर बिजलीका रेट कम होता हैं तो इससे किसी को कोई परेशानी नहीं होनी चाहिये लेकिन दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को अभी इससे परेशानी होनी शुरू हो गई हैं.

इससे यह पता लगता हैं कि उनकी सरकार द्वारा बिजली कंपनियों के साथ मिलकर बिजली के दामों में कहीं न कहीं घपलेबाजी की जा रही हैं| खबर एनडीटीवी इंडिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here