आरबीआई आरबीआई ने लिया एक बड़ा फैसला

कई दिनों से देश में आधार को अनिवार्य करने पर चल रही बहस के बीच रिजर्व बैंक ने एक बड़ा फैसला लिया हैं. आरबीआई ने अब सभी खाताधारकों के लिए अपना अकाउंट आधार से जोड़ना अनिवार्य कर दिया हैं. रिजर्व बैंक ने इस बाबत हाल ही में एक सर्कुलर जारी किया.

हालांकि आरबीआई का यह नया नियम आधार की अनिवार्यता को लेकर उच्चतम न्यायालय में चल रहे मामले में अंतिम निर्णय पर निर्भर करेगा. आरबीआई ने अपने ग्राहक को केवाईसी के संशोधित दिशा-निर्देशों के तहत आधार को बैंक खाते से जोड़ना अनिवार्य कर दिया हैं.

अभी केवाईसी के लिए खाताधारक का एक हालिया फोटो और पैन कार्ड की कॉपी और पते के सबूत के लिए आधिकारिक तौर पर वैध दस्तावेज माना जाता था. रिजर्व बैंक ने संशोधित दिशानिर्देश में कहा हैं कि जैविक पहचान पत्र हेतु आवेदन करने के पात्र हर व्यक्ति से आधार संख्या तथा पैन या फॉर्म ६० प्राप्त करने की जरूरत होगी.

माना जा रहा हैं कि इस कदम से बैंकिंग सेवाओं के लिए भरोसे का माहौल तैयार होगा. आरबीआई ने कहा कि जम्मू-कश्मीर, असम और मेघालय में रहने वाले लोग जो आधार या आधार पंजीयन आवेदन नहीं देते हैं, बैंक उनसे पहचान और पता के लिए ओवीडी तथा हालिया फोटो मांग सकते हैं.

आरबीआई ने ये भी कहा हैं कि जो लोग भारत के रहने वाले नहीं हैं या जो आधार हासिल करने के पात्र नहीं हैं, उनसे भी आधार नहीं मांगा जाएगा| खबर आजतक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here