अमरेश
अपने पिता संग अमरेश

अकोढ़ीगोला स्थित हनुमान गढ़ी के रहने वाले अमरेश

कहा गया हैं यदि दिल में लगन व मन में दृढ इच्छा हो तो कुछ भी असंभव नहीं हैं. इस पंक्तियों को चरितार्थ किया हैं बिहार के अकोढ़ीगोला स्थित हनुमान गढ़ी में रहने वाले छात्र अमरेश कुमार ने उन्हें १८ नवम्बर से दक्षिण कोरिया में विश्व जूनियर साफ्ट टेनिस चैम्पियनशिप में भारत की तरफ से खेलने का मौका मिला हैं.

दक्षिण कोरिया जाने से पूर्व उन्होंने ने बताया कि उसे गर्व हैं कि वह अपने देश के लिए खेलने दक्षिण कोरिया जा रहा हैं. इसके साथ ही उन्होंने ये भी बताया कि १८ नवम्बर से २५ नवम्बर तक विश्व जूनियर साफ्ट टेनिस खेल का आयोजन होगा. अकोढ़ीगोला निवासी राजू प्रसाद गुप्ता के बड़े पुत्र अमरेश कुमार मध्यम वर्गीय परिवार से संबंध रखते हैं.

उनके पिता आरा में श्रीराम लाइफ इंश्योरेंस में कार्यरत हैं. शुरू में उनकी पढ़ाई स्थानीय राजकीय मध्य विद्यालय बराढ़ी में हुई. शुरू से ही खेल में रुचि रखने वाले अमरेश ने साफ्ट टेनिस में भोजपुर डिस्ट्रिक्ट साफ्ट टेनिस चैम्पियनशिप आरा में अंडर १५ में प्रथम स्थान पाकर गोल्ड मेडल हासिल किया.

कई गोल्ड व दर्जनों शील्ड हासिल किये

जिसके बाद उसने अब तक पांच गोल्ड मेडल, चार ब्रांज मेडल व छह सिल्वर मेडल सहित दर्जनों शील्ड व मेडल हासिल किया हैं. पूरे देश मे साफ्ट टेनिस में अपनी पहचान बनाने वाले छात्र अमरेश का कहना हैं कि वह दक्षिण कोरिया से भी अपने देश के लिए गोल्ड मेडल लाएगा. अमरेश ने अपने प्रशिक्षक प्रस कुमार का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उन्हीं के आशीर्वाद से आज इस मुकाम पर पहुंचा हु.

अमरेश के इस मुकाम पर पहुंचने पर राज किशोर शर्मा, प्रमोद गुप्ता, रणजीत गुप्ता, मुंन्ना गुप्ता, विकास कुमार, आनंदजी गुप्ता, अजय कुमार, संजय राज ने खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि आज वह अपने गांव का ही नही देश का भी नाम रौशन कर रहा हैं. ग्रामीणों का कहना हैं कि गांव का बेटा दक्षिण कोरिया से गोल्ड मेडल जीत कर अपने देश का नाम जरूर रौशन करेगा| खबर दैनिक जागरण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here