मूर्ख नहीं हूं कि अपने सम्मान में मिले पुरस्कार लौटा दू : प्रकाश राज

प्रकाश

बीते पांच सितंबर की रात को दक्षिणपंथ के खिलाफ कड़ा रुख रखने वाली लंकेश को अज्ञात अपराधियों ने गोली मारकर उनकी हत्या कर दी थी. इसी पर अभिनेता प्रकाश राज ने पीएम मोदी की चुप्पी पर सवाल उठाते हुए कहा कि उनको लगता हैं कि वे ऐसे अभिनेताओं को अपने पुरस्कार दे दें जो ऐसा दिखा रहे हैं जैसे कुछ हुआ ही नहीं. हालांकि बाद में उन्होंने कहा कि वह ‘मूर्ख नहीं हैं कि राष्ट्रीय पुरस्कारों को लौटाएं.

राज ने सोमवार की रात अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो पोस्ट में कहा कि वह राष्ट्रीय पुरस्कारों को वापस करना चाहते हैं. वीडियो में उन्होंने कहा की मैंने देखा कि समाचार चैनलों पर यह चलाया जा रहा हैं कि प्रकाश राज ने राष्ट्रीय पुरस्कार को वापस लौटाने का फैसला किया हैं. मैं इतना मूर्ख नहीं हूं कि राष्ट्रीय पुरस्कार लौटा दूं. यह मेरे कार्यों के लिए दिया गया हैं, जिस पर मुझे गर्व हैं. इससे पहले उन्होंने एक कार्यक्रम में कहा था, जब मैं इन अभिनेताओं को देखता हूं जो यह दिखाते हैं कि कुछ हुआ ही नहीं हैं तो मुझे लगता हैं कि मैं अपने पांच राष्ट्रीय पुरस्कार उन्हें वापस लौटा दूं. वे मुझसे बड़े अभिनेता हैं.

लंकेश को अपनी करीबी दोस्त बताते हुए राज ने कहा, जश्न कौन मना रहा हैं ? अमानवीय हत्या पर जश्न मनाये जाने से मैं दुखी हूं. मैंने जश्न मनाने वालों के खिलाफ अपने दुख और रोष का इजहार किया हैं. इसे लेकर मुझे ट्रोल किया गया. राज ने कहा, साथ ही मेरा सवाल हैं कि देश के प्रधानमंत्री अगर ऐसे लोगों को फॉलो करते हैं और उनके खिलाफ कोई कदम नहीं उठा रहे और उन पर कोई टिप्पणी नहीं कर रहे तो एक नागरिक होने के नाते मैं परेशान हूं, मैं व्यथित हूं. मैं प्रधानमंत्री की चुप्पी से डरा हुआ हूं. उन्होंने कहा की मैं किसी राजनीतिक पार्टी से जुदा नहीं हू और देश के एक नागरिक के नाते ये बातें अपने प्रधानमंत्री से कह रहा हू| खबर जी न्यूज़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *