विरासत संरक्षण और स्लम बस्तियों के विकास पर बल दिया हैं सरकार ने : विजय गोयल

विजय गोयलकल दिल्ली के लालबहादुर शास्‍त्री अस्‍पताल, खिचड़ीपुर से आरंभ हुई और त्रिलोक पुरी डॉ. भीमराव अम्‍बेडकर स्‍टेडियम पर समाप्‍त हुई १०वीं स्‍लम युवा दौड़ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया युवा कार्य और खेल राज्‍य मंत्री विजय गोयल ने और कार्यक्रम में उनके साथ नितिन गडकरी भी मौजूद रहे इसके साथ ही उन्होंने कहा की मंत्रालय ने सीबीएसई से सम्‍बद्ध विद्यालयों, केंद्रीय विद्यालय संगठन और नवोदय विद्यालयों को लिखा हैं की वे अपने यहां स्‍काउट्स एंड गाइड्स, एनएसएस और एनसीसी की कम से कम एक इकाई अवश्‍य खोलें

ताकि युवाओं के व्‍यक्तित्‍व का विकास और स्‍कूलों का पाठ्यक्रम पूर्णता प्राप्‍त कर सकें युवा विकास पर अधिवेशन को संबोधित करते हुए विजय गोयल ने स्‍काउट्स एंड गाइड्स संगठनों से अनुरोध किया कि वे अपने शुल्‍क ढांचे में बदलाव लाएं जिससे समाज के सभी वर्ग इसमें शामिल हो पाए और व्‍यक्तिगत आधार के स्‍थान पर संस्‍थान आधारित शुल्‍क ढांचे की व्‍यवस्‍था भी की जा सकती हैं. उन्‍होंने कहा कि भारत सरकार के प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के ओजस्‍वी नेतृत्‍व में  सबका साथ सबका विकास’ के सिद्धांत का पालन करते हुए संयुक्‍त, सशक्‍त और आधुनिक भारत एक भारत श्रेष्‍ठ भारत’ के मिशन के निर्माण पर अग्रसर हैं. बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, जन धन योजना एवं स्‍वच्‍छ भारत मिशन जैसी कई प्रमुख पहल आरंभ की गई हैं.

युवा कार्य और खेल राज्‍य मंत्री विजय गोयल ने कहा कि भारत की समृद्ध विरासत के संरक्षण और स्‍लम बस्तियों के विकास पर विशेष बल दिया गया हैं. गोयल ने कहा कि उनका मंत्रालय युवाओं को नेतृत्‍व क्षमता और व्‍यक्तित्‍व विकास के लिए अवसर प्रदान करने के हितैषी कार्य में लगा हुआ हैं राष्‍ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) और नेहरू युवा केंद्र संगठन (एनवाईकेएस) स्‍वयंसेवी संगठनों के जरिए यह कार्य किया जा रहा हैं|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *