अमेरिका आतंकवाद पर भारत के साथ

अमेरिका

भारत के लिए सबसे अच्छे दोस्त साबित हो रहे हैं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप. यही वजह हैं कि साल २०१७ में भारत अमेरिका के संबंध नई ऊंचाईयों पर पहुंचे. वहीं इसी सिलसिले में भारत में अमेरिका के राजदूत केनेथ जस्टर का भी बयान आया हैं. केनेथे जेस्टर के मुताबिक अब समय आ गया हैं कि भारत के साथ सामरिक और कूटनीतिक संबंध और मजबूत किए जाएं और टिकाऊ बनाया जाए. अमेरिका के आतंक विरोधी योजनाओं पर बात करते हुए जस्टर ने कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और अमेरिका के बाकी नेताओं का यह साफ एजेंडा हैं कि क्रॉस बॉर्डर आतंकी गतिविधियों को रोका जाए और कहीं भी ‘टेररिस्ट सेफ हेवन’ बनने से रोका जाए.

भारत को न्यूक्ल‍ियर सप्लाइर ग्रुप में शामिल करने के बारे मे जस्टर ने कहा कि अमेरिका भारत के साथ मिलकर इस सिलसिले में बात आगे बढ़ा रहा हैं. उनके अनुसार अमेरिका पूरी आशा करता हैं कि जल्द ही भारत ऑस्ट्रेलिया ग्रुप के साथ एक्सपोर्ट कंट्रोल ग्रुप हिस्सा बन जाएगा. आपको बता दें कि केनेथे जस्टर भारत में अमेरिका के नए राजदूत हैं. यह उनका राजदूत बनने के बाद पहला भाषण था. भारत के साथ जस्टर के संबंध काफी पुराने हैं और उन्होंने भारत अमेरिका असैन्य परमाणु समझौते में महत्वूपर्ण भूमिका निभाई थी.

आपको बता दें कि जनवरी २०१७ में ट्रंप द्वारा अमेरिका राष्ट्रपति का पदभार संभालने के बाद से अमेरिका और भारत के रिश्ते काफी मजबूत हो रहे हैं. साथ ही अमेरिका भारत के दुश्मन देश पाकिस्तान के भी आतंकियों के बढ़ावा देने वाले मंसूबों पर लगाम लगा रहा हैं. यह भारत की दोस्ती ही थी जिस वजह से अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली सैकड़ों डॉलर की सैन्य सहायता रोक दी. साथ ही उसे धमकी देते हुए आतंकियों को पालने पोषने से बचने की सलाह दी हैं| खबर आजतक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *