इस कारण हुई 65 हजार करोड़ रुपये की बचत : मोदी

मोदी

कल साइबर स्पेस पर एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित करने के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बैंक खाता, मोबाइल नंबर और आधार की त्रिमूर्ति के कारण सब्सिडी को जरूरतमंद तक सीधे पहुंचाने में मदद मिली हैं और इस प्रक्रिया में सरकार को ६५००० करोड़ रुपये की बचत हुई हैं वरना यह रकम प्रणाली में लीकेज के कारण भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाती थी. मोदी ने कहा कि डिजिटल टेक्नोलॉजी के कारण सुविधाओं में काफी इजाफा हुआ हैं और किसानो को घर बैठे विशेषज्ञों की राय और फसलों की अच्छी कीमत मिल रही हैं. छोटो उद्यमियों को सरकार को माल सप्लाई करने की सहूलियत मिली हैं.

पेंशन भोगियों के लिए अब खुद बैंक अधिकारियों के समक्ष उपस्थित होने की जरूरत खत्म हो गई हैं और महिलाओं को रोजगार मिला हैं. अंतरराष्ट्रीय समुदाय से भारत के स्टार्ट अप उद्यमों में निवेश की अपील करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि हम डिजिटल टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में अपने अनुभवों और उपलब्धियों को दुनिया भर के देशों के साथ साझा करना चाहेंगे और उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दशकों में साइबर स्पेस ने दुनिया को बदलकर रख दिया हैं और डिजिटल टेक्नोलॉजी लोगों को समर्थ बनाने में अहम भूमिका निभा रही हैं.

इसकी वजह से ही गरीब और कमजोर लोगों को भी संपन्न लोगों से मुकाबला करने का मौका मिला हैं और इसी तरह विकासशील देशों को भी विकसित देशों को चुनौती देने का अवसर प्राप्त हुआ. टेक्नोलॉजी सभी बाधाओं और दीवारों को गिरा रही हैं. टेक्नोलॉजी के जरिए बदलाव लाने वाली केंद्र सरकार की डिजिटल इंडिया कार्यक्रम को दुनिया की सबसे बड़ी टेक्नोलॉजी पहल करार देते हुए उन्होंने कहा कि इसकी वजह से शिक्षा से लेकर स्वास्थ्य तक के क्षेत्र में सेवाओं की डिलीवरी और गवर्नेंस में सुधार हो रहा हैं| खबर अमर उजाला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *