रवीश कुमार को मिलेगा ‘रेमन मैग्सेसे पुरस्कार’ का सम्मान

रवीश कुमारवरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार “रेमन मैग्सेसे पुरस्कार” से सम्मानित करने हेतु चयनित

बीते शुक्रवार २ अगस्त को भारत के सुप्रशिध ४४ वर्षीय वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार को “रेमन मैग्सेसे पुरस्कार” से सम्मानित करने हेतु चयनित किया गया एनडीटीवी इंडिया के वरिष्ठ कार्यकारी संपादक, भारत के सबसे प्रभावशाली टीवी पत्रकारों में से एक हैं, जिन्हें  रेमन मैग्सेसे अवार्ड फाउंडेशन द्वारा पुरस्कृत किया जायेगा.

इस साल के मैगसेसे पुरस्कार विजेता प्रत्येक को एक प्रमाण पत्र और रेमन मैगसेसे की एक उभरी छवि के साथ एक पदक प्राप्त होगा, उन्हें औपचारिक रूप से आगामी ९ सितम्बर २०१९ को आयोजित होने वाली औपचारिक प्रस्तुति समारोहों के दौरान मैग्सेसे पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा.

रविश उन पांच व्यक्तियों में शामिल हैं जिन्हें पुरस्कार का विजेता घोषित किया गया, जो कि एशिया का प्रमुख पुरस्कार और सर्वोच्च सम्मान हैं. रवीश कुमार, बिहार के जितवारपुर गाँव में पैदा हुए, १९९६ में नई दिल्ली टेलीविज़न नेटवर्क में शामिल हुए और एक फील्ड रिपोर्टर बनने के लिए काम किया.

रेमन मैग्सेसे पुरस्कार एशिया का सर्वोच्च सम्मान हैं

२०१९ रेमन मैगसेसे पुरस्कार के चार अन्य विजेताओं में म्यांमार से को स्वे विन, थाईलैंड से अंगखाना नीलापजीत, फिलीपींस से रेमुंडो पुजांते कैयाब और दक्षिण कोरिया के किम जोंग-की शामिल हैं. १९५७ में स्थापित, रेमन मैग्सेसे पुरस्कार एशिया का सर्वोच्च सम्मान हैं. पुरस्कृत होने के बाद रविश कुमार के चाहने वालो की ओर से बधाइयों का ताता लग गया

जिस पे रविश ने बड़ी ही भावपूर्ण व निर्मम प्रतिक्रिया दी अपने फेसबुक पेज के माध्यम से. रवीश कुमार ने लिखा :- आपका लिखा हुआ मिटाया नहीं जा रहा हैं. सहेजा भी नहीं जा रहा है. दो दशक से मेरा हिस्सा आपके बीच जाने किस-किस रूप में गया होगा, आज वो सारा कुछ इन संदेशों में लौट कर आ गया है. जैसे महीनों यात्रा के बाद कोई बड़ी सी नाव लौट किनारे लौट आई हो.


आपके हज़ारों मैसेज में लगता है कि मेरे कई साल लौट आए हैं. हर मेसेज में प्यार, आभार और ख़्याल भरा है. उनमें ख़ुद को धड़कता देख रहा हूं. जहां आपकी जान हो, वहां आप डिलिट का बटन कैसे दबा सकते हैं. चाहता हूं मगर सभी को जवाब नहीं दे पा रहा हूं| पूरा पोस्ट पढ़े इस लिंक पर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *