यदि आपके पास हुनर हैं तो आपको काम जरूर मिलेगा : कृष्णा भारद्वाज

-Harsh Raj

छोटे परदे पे अपनी एक अच्छी पहचान बना चुके कृष्णा भारद्वाज फिलहाल लाइफ ओके पे प्रसारित धारावाहिक  “बहु हमारी रजनीकांत” में अपनी अदाकारी का करिश्मा दिखा रहे हैं

                                                       कृष्णा भारद्वाज एक जाना माना चेहरा इस इंडस्ट्री के लिए तो कितनी मेहनत लगी कितनी लगन थी आपकी इसे पाने में इसे बनाने में ?

मुझे ऐसा लगता हैं कि जो भी मुंबई पहुचता हैं अगर उसमे टैलेंट हैं तो उसे ज्यादा टाइम नहीं लगता हैं बनाने में, मैं बॉम्बे पंहुचा एक्टिंग सीखी ऑडिशन्स देने शुरू किए और मुझे पहले ऑडिशन में ही चुन लिया गया वो एक कोक ऐड था विवेक ओबेरॉय के साथ बड़ी खुशी हुई थी तब फिर आगे भी ऑडिशन्स देता गया छोटे रोल मिले फिर बड़े भी मिलने लगे तब से काम कर रहा हु यदि आपके पास हुनर हैं तो आपको काम जरूर मिलेगा ।

कब कैसे और कहा एक अच्छे सीरियल का ब्रेक मिला आपको ?मुझे मेरा पहला ब्रेक मिला जिसमे मेरा लीड रोल भी था ‘जसु बेन जयंती लाल की जॉइंट फैमिली’ 2007 में जो की हैट्स ऑफ प्रोडक्शन के अंडर था जो दो साल चला बड़ा हिट रहा वो सीरियल आजतक लोग मुझे उसी कैरेक्टर के नाम से जानते हैं ।

कुछ पर्सनली अपने बारे में बताइए क्या आपको पसंद हैं क्या नहीं शूट से फ्री होते हैं तो क्या करते हैं ?

मुझे काम करना बहुत पसंद हैं मैं 24 घंटे सालो भर काम कर सकता हु मुझे शूटिंग बहुत पसंद हैं कैमरे के सामने रहना बहुत पसंद हैं मैं लिखता हूं मुझे लिखना बहुत पसंद हैं मैंने प्लेस लिखे हैं सीरियल्स लिखे हैं अभी दो गुजराती फिल्म्स लिख रहा हु 2009 में मेरा ही सीरियल आया था जो मैंने लिखा था ‘सुख बाई चांस’ जिसमे मैंने एक्टिंग भी की थी और मैं ट्रैंएड डांसर हु मुझे डांस करना पसंद हैं मुझे गाना बहुत पसंद हैं मेरा प्ले म्यूजिकल हैं तो हम उसमे गाने भी गाते हैं लोगो से मिलना पसंद हैं ।

यहाँ आप इनका इंटरव्यू लाइव सुन भी सकते हैं

4:- आपने काफी शोज किए सीरियल्स किए पर अभी ‘”बहु हमारी रजनीकांत” में आपके एक्टिंग की बड़ी सराहना हुई हैं पर दर्शकों की एक शिकायत हैं कि अपीयरेंस काफी कम हैं ऐसा क्यों ?

:- अपीयरेंस कम इसलिए क्योंकि जब मैंने कॉन्ट्रैक्ट साइन किया तो ऐसा था कि मेरा ट्रैक रजनीकांत यानि एक्ट्रेस के साथ होगा काफी शूट भी हुआ था बहुत सारे रोमांटिक सीन्स भी शूट हुए थे पर जब चैनल ने उन्हें देखा तो ऐसा लगा की हमारी जो केमेस्ट्री हैं कुछ ज्यादा हैं लीड एक्टर की तुलना में तो मेरा ट्रैक कम करदिया गया क्यों की मेरी केमेस्ट्री ज्यादा अच्छी होगी लीड एक्टर की तुलना में तो सीरियल का रुख कही और चला जाएगा इस लिए मेरा अपीयरेंस कम कर दिया गया ।

इस सीरियल का नाम बड़ा ही रोचक हैं “बहु हमारी रजनीकांत” ये आईडिया किसका था और कैसे फाइनल हुआ ये रजनीकांत क्यूँ ?

ये तो पता नहीं मैं तो बस अपने स्क्रिप्ट की एक्टिंग कर रहा हु शायद ये नाम लोगो को ज्यादा आकर्षित करता हैं अपनी ओर या फिर रजनीकांत इंडिकैट्स रोबोट ।

सीरियल का सबसे रोचक हिस्सा क्या हैं आपके नजरिए से ?

ये बाकि शोज की तरह नहीं हैं वो रोना धोना या इमोशनल सीन्स, इसमें भी सास बहू हैं लड़ाई झगड़े यहाँ भी हैं पर उन सब का सोलुशन बड़े ही फनी वे में निकल के आता हैं वही सबसे खास बात हैं इसकी कॉमिक शो हैं लोगो को हँसाता हैं ।

Kriish Bhardwaj (क्रीश भारद्वाज) (18)                                         “बहु हमारी रजनीकांत” की टीम  

क्या सोच के आपने रजनीकांत को फ़ाइनल किया और कैसा लग रहा हैं आपको ?

इसमें जो मेरा कैरैक्टर था वैसा कैरेक्टर मैंने पहले कभी प्ले नहीं किया था वो सलमान खान का फैन हैं और मैं पर्सनली बहुत शांत हु और ये रोल मेरे बिलकुल अपोजिट था लाउड था तो मैंने इसे हाँ किया और मैं बहुत खुश हूं ये रोल प्ले करके ।

यु तो अब सभी जान चुके हैं कि ‘बलवंत’ कौन हैं क्या हैं पर आप बताइए आगे और क्या अलग और खास दिखाएगा ये बलवंत ?

अभी तो मुझे कुछ पता नहीं हैं पर जब भी आता हैं कुछ नेगेटिव शेड्स लेके आता हैं फनी कैरेक्टर हैं वापस जब भी आएग रजनीकांत को पटाने की कोशिश करेगा लोगो को परेशान करेगा पर सबको हंसाएगा ये कैरेक्टर ।

आज के युथ के बारे में आप क्या कहना चाहते क्या मैसेज देना चाहते हैं आप उन्हें ?

आज का युथ आलरेडी बहुत समझदार हैं उनको किसी मैसेज की जरुरत नहीं हैं आज का युथ काफी क्लियर हैं उन्हें क्या करना हैं क्या नहीं वो काफी समझदार सभी चीज़ों की जानकारी हैं उन्हें और मैं भी आज के युथ से बहुत कुछ सीखता हु ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *