भाजपा की ये योजनाएं जिनसे २०१९ में पलट सकती हैं सत्ता की बाजी

योजनाएं
देश में पहली पूर्ण बहुमत वाली बीजेपी सरकार बनाई

विधानसभा चुनावों के बाद अनौपचारिक तौर पर देश में २०१९ आम चुनाव का बिगुल बज जाएगा. २०१४ के चुनावों में विपक्ष में बैठी भारतीय जनता पार्टी ने अप्रत्याशित बहुमत के साथ देश में पहली पूर्ण बहुमत वाली बीजेपी सरकार बनाई और नरेन्द्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने.

अब अपना पहला कार्यकाल पूरा कर रहे नरेन्द्र मोदी एक बार फिर दूसरे कार्यकाल के लिए जनता के बीच होंगे. आगामी आम चुनावों में पार्टी की कोशिश बीते पांच साल के दौरान शुरू की गई योजनाओं की सफलता पर सत्ता में कायम रहने की होगी. केन्द्र सरकार की इन पांच योजनाओं के आंकड़ों देखे तो २०१९ में ये योजनाएं सत्ता की बाजी पलट सकती हैं.

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी और माइक्रो फाइनेंस इंस्टीट्यूशन द्वारा छोटे और मध्यम कारोबारियों को बिना किसी सिक्योरिटी के कर्ज देने का प्रावधान हैं. प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे ५ करोड़ परिवारों को बिना किसी सिक्योरिटी राशि के एलपीजी कनेक्शन दिए जाने का प्रावधान किया गया.

ग्रामीण क्षेत्र में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत देश में सभी परिवारों के लिए २०२२ तक घर का प्रावधान किया गया हैं. प्रधानमंत्री ने स्वच्छ भारत मिशन को २ अक्टूबर २०१४ को लॉन्च किया और २ अक्टूबर २०१९ तक इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में पूर्ण स्वच्छता का लक्ष्य तय किया गया.

प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत समाज के कमजोर तबके और कम आय वाले परिवारों को बैंकिंग सुविधा उपलब्ध कराने का प्रावधान हैं| खबर आजतक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *