विजयादशमी क्यों मनाते हैं १०वें दिन ही

विजयादशमी
नवरात्रों में दसवें दिन विजयादशमी मनाया जाता हैं

साल में दो बार मनाई जाती हैं नवरात्रि पहला चैत्र मास में, जिसे चैत्र नवरात्र कहते हैं और दूसरा आश्व‍िन मास में, जिसे शारदीय नवरात्रि कहते हैं. नवरात्रि के दिनों में नौ दिनों तक मां दुर्गा के नौ अलग-अलग स्वरूपों की पूजा होती है. आश्विन मास में मनाए जाने वाले नवरात्रों में दसवें दिन विजयादशमी यानी दशहरा त्‍यौहार के रूप में मनाया जाता हैं.

लेकिन क्या आपने कभी सोचा हैं कि नवरात्र‍ि के दसवें दिन दशहरा क्यों मनाते हैं? शारदीय नवरात्र की शुरुआत कब और कैसे हुई, जानिए ऐसी मान्यता हैं कि शारदीय नवरात्र की शुरुआत भगवान राम ने की थी. भगवान राम ने सबसे पहले समुद्र के किनारे शारदीय नवरात्रों की पूजा की शुरुआत की राम ने लगातार ९ दिनों तक शक्त‍ि की पूजा की थी

और तब जाकर उन्होंने लंका पर जीत हासिल की थी. यही वजह हैं कि शारदीय नवरात्रों में नौ दिनों तक दुर्गा मां की पूजा के बाद दसवें दिन विजयादशमी यानी दशहरा मनाया जाता हैं. हर साल १०वें दिन तब से ही दशहरा मनाया जाता हैं और माना जाता हैं कि अधर्म की धर्म पर जीत, असत्‍य की सत्‍य पर जीत के लिए १०वें दिन दशहरा मनाते हैं| खबर आजतक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *